जिस दिन से मैंने तुम्हे देखा है Jis Din Se Meinay Tumhe Dekha Hai Lyrics in Hindi from Parwana (1971)

Jis Din Se Meinay Tumhe Dekha Hai Lyrics in Hindi. जिस दिन से मैंने तुम्हे देखा है song from Parwana 1971. It stars Amitabh Bachchan, Navin Nischol, Yogeeta Bali, Om Prakash. Singer of Jis Din Se Meinay Tumhe Dekha Hai is Asha Bhosle, Mohammed Rafi. Lyrics are written by Kaifi Azmi Music is given by Madan Mohan Kohli

Song Name : Jis Din Se Meinay Tumhe Dekha Hai
Album / Movie : Parwana 1971
Star Cast : Amitabh Bachchan, Navin Nischol, Yogeeta Bali, Om Prakash
Singer : Asha Bhosle, Mohammed Rafi
Music Director : Madan Mohan Kohli
Lyrics by : Kaifi Azmi
Music Label : Saregama

जिस दिन से मैंने
तुम को देखा है
इस दिल में इक
सपना सा जागा है
इजाज़त हो तोह सुना दू
जिस दिन से मैंने
तुम को देखा है
इस दिल में इक
सपना सा जागा है
इजाज़त हो तोह सुना दू

इस दिल ने जबसे
तुम को पाया है
कुछ चोरी चोरी
मैंने भी देखा है
गर इजाज़त हो तोह बता दू
गर इजाज़त हो तोह बता दू

शोख़ी है नज़ाकत है
नजरो में शरारत है
ऐसा भी शरमाना क्या
कह दो की मोहब्बत है
कहने की जरुरत क्या
बातो की हकीकत क्या
छलके ना निगाहो
से ऐसी भी मोहब्बत क्या
कुछ खोया खोया
दिल भी रहता है
कुछ चोरी चोरी
मैंने भी सोचा है
इजाज़त हो तोह बता दू
इजाज़त हो तोह सुना दू

जुल्फों को सवारा भी
चेहरे को निखारा भी
अब तो देदो जनेजा
बाहों का सहारा भी
मस्ती का ज़माना भी
खुशियों का खजाना भी
पाया तो तुम्हे पाया
जीने का बहाना भी
अब दुनिया कितनी
रंगीन है दुनिया हे
इस दिल में इक सपना सा जागा है
इजाज़त हो तोह सुना दू
इजाज़त हो तोह बता दू

दिल को ना सँभालु
तोह सीने से लगा लू तोह
होठों की जो लाली है
उस को मई चुरा लो तोह
यु नज़ारे ना डालो तुम
अब्ब दिल को संभालो तुम
देखे ना हमें दुनिया
सीने में छुपा लो तुम
ना जाने मुझको
डर क्यों लगता है
कुछ चोरी चोरी
मैंने भी देखा है
गर इजाज़त हो तोह बता दू
जिस दिन से मैंने
तुम को देखा है
इस दिल में इक सपना सा जागा है
इजाज़त हो तोह सुना दू
इजाज़त हो तोह सुना दू.

Jis din se maine
Tum ko dekha hai
Iss dil me ik
Sapna sa jaaga hai
Ijaazat ho toh suna du
Jis din se maine
Tum ko dekha hai
Iss dil me ik
Sapna sa jaaga hai
Ijaazat ho toh suna du

Iss dil ne jabse
Tum ko paaya hai
Kuchh chori chori
Maine bhi dekha hai
Gar ijaazat ho toh bata du
Gar ijaazat ho toh bata du

Shokhi hai najaakat hai
Najaro me sharaarat hai
Aisa bhi sharmaana kya
Keh do ki mohabbat hai
Kahane ki jarurat kya
Baato ki hakikat kya
Chhalake naa nigaaho
Se aisi bhi mohabbat kya
Kuchh khoya khoya
Dil bhi rehta hai
Kuchh chori chori
Maine bhi sochaa hai
Ijaazat ho toh bata du
Ijaazat ho toh suna du

Julfo ko savara bhi
Chehre ko nikhara bhi
Ab to dedo janeja
Baho ka sahara bhi
Masti ka zamana bhi
Khusiyo ka khajana bhi
Paya to tumhe paya
Jine ka bahana bhi
Ab duniya kitni
Rangin hai duniya he
Is dil me ik sapna sa jaaga hai
Ijaazat ho toh suna du
Ijaazat ho toh bata du

Dil ko naa sambhalu
Toh sine se laga lu toh
Hothon ki jo laali hai
Us ko mai chura lu toh
Yu najare naa daalo tum
Abb dil ko sambhaalo tum
Dekhe naa hame duniya
Sine me chhupa lo tum
Naa jaane mujhako
Darr kyon lagata hai
Kuchh chori chori
Maine bhi dekha hai
Gar ijaazat ho toh bata du
Jis din se maine
Tum ko dekha hai
Iss dil me ik sapna sa jaaga hai
Ijaazat ho toh suna du
Ijaazat ho toh suna du.