झुके हैं बादल बालों के Jhuke Hain Baadal Baalon Ke Lyrics in Hindi from Kal Hamara Hai

Jhuke Hain Baadal Baalon Ke Lyrics in Hindi. झुके हैं बादल बालों के song from Kal Hamara Hai. It stars Bharat Bhushan, Madhubala, Leela Chitnis, Jayant, Jeevankala, Amrit Rana, Deepak, W M Khan, Hari Shivdasani. Singer of Jhuke Hain Baadal Baalon Ke is Asha Bhosle, Mohammed Rafi. Music is given by Chitragupta Shrivastava

Song Name : Jhuke Hain Baadal Baalon Ke
Album / Movie : Kal Hamara Hai
Star Cast : Bharat Bhushan, Madhubala, Leela Chitnis, Jayant, Jeevankala, Amrit Rana, Deepak, W M Khan, Hari Shivdasani
Singer : Asha Bhosle, Mohammed Rafi
Music Director : Chitragupta Shrivastava
Music Label : Saregama

झुके हैं बादल बालों के
छुए है गुलशन गलो के
यही तो मौसम
आँखों से पिने का है
सुनो जी कंगना दीवाने
संभल के चलना क्या जाने
यही तो मौसम मस्ती में झूम ले सही

छेड़ो न सैया मुझे आती है अंगड़ाइयाँ
सपने में मिलती है प्यार की तन्हाईया
चाहत का ये दिन सुहाना सुहाना
भूल न जाना जी बना के दीवाने
झुके हैं बादल बालों के
छुए है गुलशन गलो के
यही तो मौसम
आँखों से पिने का है
सुनो जी कंगना दीवाने
संभल के चलना क्या जाने
यही तो मौसम मस्ती में झूम ले सही

कोमल सी हु कोई तीर मत मारना
हे मर जाऊंगा न यु प्यार से पुकारने
ऐसे में देखो हमें न सताना
भूल न जाना जी बना के दीवाने
झुके हैं बादल बालों के
छुए है गुलशन गलो के
यही तो मौसम
आँखों से पिने का है
सुनो जी कंगना दीवाने
संभल के चलना क्या जाने
यही तो मौसम मस्ती में झूम ले सही

मैं तो चली देखो प्यार की ऐडा में
लुट चुके हम तो न और दका डालिए
दिल को चुराया मगर न चुराना
भूल न जाना जी बना के दीवाने
झुके हैं बादल बालों के
छुए है गुलशन गलो के
यही तो मौसम
आँखों से पिने का है
सुनो जी कंगना दीवाने
संभल के चलना क्या जाने
यही तो मौसम मस्ती में झूम ले सही.

Jhuke hain baadal baalon ke
Chhue hai gulshan galo ke
Yahi to mausam
Aankho se pine ka hai
Suno ji kangana deewane
Sambhal ke chalna kya jane
Yahi to mausam masti me jhum le sahi

Chhedo na saiya mujhe aati hai angdaiya
Sapne me milti hai pyar ki tanhaiya
Chahat ka ye din suhana suhana
Bhul na jana ji bana ke diwana
Jhuke hain baadal baalon ke
Chhue hai gulshan galo ke
Yahi to mausam
Aankho se pine ka hai
Suno ji kangana deewane
Sambhal ke chalna kya jane
Yahi to mausam masti me jhum le sahi

Komal si hu koi tir mat marna
Hey mar jaunga na yu pyar se pukarna
Aise me dekho hume na satana
Bhul na jana ji bana ke diwana
Jhuke hain baadal baalon ke
Chhue hai gulshan galo ke
Yahi to mausam
Aankho se pine ka hai
Suno ji kangana deewane
Sambhal ke chalna kya jane
Yahi to mausam masti me jhum le sahi

Mai to chali dekho pyar ki ada me
Lut chuke hum to na aur daka daliye
Dil ko churaya magar na churana
Bhul na jana ji bana ke diwana
Jhuke hain baadal baalon ke
Chhue hai gulshan galo ke
Yahi to mausam
Aankho se pine ka hai
Suno ji kangana deewane
Sambhal ke chalna kya jane
Yahi to mausam masti me jhum le sahi.