जी लगता नहीं मेरा Jee Lagta Nahin Mera Lyrics in Hindi from Pyar Ka Sapna

Jee Lagta Nahin Mera Lyrics in Hindi. जी लगता नहीं मेरा song from Pyar Ka Sapna. It stars Ashok Kumar, Mala Sinha, Biswajeet, Mridula, Johny Walker, Helen, Rajan Haksar. Singer of Jee Lagta Nahin Mera is Mohammed Rafi. Lyrics are written by Rajendra Krishan Music is given by Chitragupta Shrivastava

Song Name : Jee Lagta Nahin Mera
Album / Movie : Pyar Ka Sapna
Star Cast : Ashok Kumar, Mala Sinha, Biswajeet, Mridula, Johny Walker, Helen, Rajan Haksar
Singer : Mohammed Rafi
Music Director : Chitragupta Shrivastava
Lyrics by : Rajendra Krishan
Music Label : Saregama

जी लगता नहीं अपना इन देसी नजरो में
ले जाओ मुझे यारो यूरोप की बहरो में
जी लगता नहीं अपना इन देसी नजरो में
ले जाओ मुझे यारो यूरोप की बहरो में
जी लगता नहीं अपना

जहा हुस्न है अलबेला बेक़ैद जवानी है
हर जुल्फ़ सुनहरी है हर शकल सुहानी है
जहा हुस्न है अलबेला बेक़ैद जवानी है
हर जुल्फ़ सुनहरी है हर शकल सुहानी है
इस देश की तो यारो हर चीज़ पुराणी है
जी लगता नहीं अपना इन देसी नजरो में
ले जाओ मुझे यारो यूरोप की बहरो में
जी लगता नहीं अपना

डाले हुए बाहों में बाहें वह घूमूँगा
हर फूल से खेलूंगा हर कलि को चूमूँगा
डाले हुए बाहों में बाहें वह घूमूँगा
हर फूल से खेलूंगा हर कलि को चूमूँगा
हर ताल पे नाचूँगा हर नाच पे झूमूँगा
जी लगता नहीं अपना इन देसी नजरो में
ले जाओ मुझे यारो यूरोप की बहरो में
जी लगता नहीं अपना

बदनाम नहीं होता वह प्यार का अफसाना
और बंद नहीं होता पल भर कोई मयख़ाना
बदनाम नहीं होता वह प्यार का अफसाना
और बंद नहीं होता पल भर कोई मयख़ाना
गर्दिश में जो आये जाये रुकता नहीं पैमाना
जी लगता नहीं अपना इन देसी नजरो में
ले जाओ मुझे यारो यूरोप की बहरो में
जी लगता नहीं अपना.

Jee lagta nahin apna in desi najaro me
Le jao mujhe yaro europe ki baharo me
Jee lagta nahin apna in desi najaro me
Le jao mujhe yaro europe ki baharo me
Jee lagta nahin apna

Jaha husn hai albela bekaid jawani hai
Har julf sunhari hai har shakal suhani hai
Jaha husn hai albela bekaid jawani hai
Har julf sunhari hai har shakal suhani hai
Is desh ki to yaro har chiz purani hai
Jee lagta nahin apna in desi najaro me
Le jao mujhe yaro europe ki baharo me
Jee lagta nahin apna

Dale huye baho me bahe waha ghumunga
Har phul se khelunga har kali ko chumunga
Dale huye baho me bahe waha ghumunga
Har phul se khelunga har kali ko chumunga
Har taal pe nachunga har nach pe jhumunga
Jee lagta nahin apna in desi najaro me
Le jao mujhe yaro europe ki baharo me
Jee lagta nahin apna

Badnam nahi hota waha pyar ka afsana
Aur band nahi hota pal bhar koi maykhana
Badnam nahi hota waha pyar ka afsana
Aur band nahi hota pal bhar koi maykhana
Gardish me jo aaye jaye rukta nahi paimana
Jee lagta nahin apna in desi najaro me
Le jao mujhe yaro europe ki baharo me
Jee lagta nahin apna.